महंगाई बेहिसाब बढ़ जाने के कारण
रेपो रेट 4.90% से बढ़कर 5.40% तक 

पिछले 4 महीने में तीसरी बार हुई रेपो रेट में बढ़ोतरी

पिछले चार महीने में  1.40 फीसदी तक बढ़ चुका है रेपो रेट

इन कारणों से RBI को बढ़ाना पड़ा रेपो रेट 

विदेशी निवेशकों के अब तक 13.3 बिलियन डॉलर भारत से निकलने के कारण भी रेपो रेटो को बढ़ाना पड़ा 

Heading 2

अमेरिकी सेंट्रल बैंक फेडरल रिजर्व समेत कई देशों के सेंट्रल बैंक आक्रामक तरीके से ब्याज दरों को बढ़ाने के कारण भी रेपो रेटो को बढ़ाना पड़ा

बैंक ऑफ इंग्लैंड ने भी इसी सप्ताह ब्याज दर में रिकॉर्ड 27 साल की सबसे बड़ी बढ़ोतरी (0.50 फीसदी) का ऐलान किया है.

रिजर्व बैंक ने मई महीने में मौद्रिक नीति समिति की आपात बैठक  बुलाई थी

अब इसका असर लोगों के Home Loans से Personal Loans तक की EMI पर दिखने लगा है.

खाने के तेल के दाम में नरमी, यूक्रेन से गेहूं के निर्यात की पुन: शुरुआत, Global Food Process में नरमी, और अच्छे मानसून के कारण फसलों में तेजी से बुवाई आने वाले समय में महंगाई से राहत मिल सकती है

और पढ़े 
Click Now!

Click Here